-->

Home science me career kaise banaye

इस पोस्ट में होम साइंस में करियर, home science me career kaise banaye, होम साइंस में रोजगार के अवसर कैसे ढूंढे इन सबकी जानकारी देंगे।
हैलो दोस्तो आज हम इस पोस्ट में होम साइंस में करियर, home science me career kaise banaye, होम साइंस में रोजगार के अवसर कैसे ढूंढे, home science me career after 12th इन सब बाबतो के बारेमे पूरी माहिती उपलब्ध करेंगे।

home-science-me
home-science-me-career

देश और विश्व में विज्ञान, वाणिज्य और कला के प्रवाहो में बहोत शिक्षा कोर्स चलाए जाते है। जिसमे गृह विज्ञान यानिकि होम साइंस मुख्य है। एक समय में होम साइंस की कोई खास वैल्यू नही थी पर आज होम साइंस में रोजगार के अवसर बहोत ज्यादा उपलब्ध है। होम साइंस में ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेज्युएशन या PHD Degree भी कर सकते हो। आप इस क्षेत्र के साथ संबधित कोई भी करियर शुरू कर सकते हो या होम साइंस संबधित नोकरी में जुड़ सकते हो।

Home science kya hai । परिचय और माहिती

भारत में CBSE बोर्ड में होम साइंस, कक्षा 11th में शैक्षणिक विषय के तोर पर शिखाया जाता है। होम साइंस के कोर्स में घर, व्यक्ति, कुटुंब, संसाधनों सहित घर संबधित तमाम महत्वपूर्ण बाबते सामिल है। होम साइंस विषय हर व्यक्ति, घर, कुटुंब संबधित हरेक पहेलुओ का उत्तम संचालन द्वारा अच्छे से जीने के लिए बहोत महत्वपूर्ण विषय है। होम साइंस कोर्स करने के बाद छात्र उसके घर, कुटुंब, और उपलब्ध संसाधनों का सचोट उपयोग करके लक्ष्य प्राप्त कर सकते है। व्यक्तिगत विकास उपरांत, वोह वैज्ञानिक बाबतो को ध्यान में रखकर उसके कुटुंब के लिए योग्य व्यवस्था भी कर सकता है।

Home Science me best Course । होम साइंस में कोर्स

भारत में होम साइंस के कोर्स करने के लिए छात्र 12वि कक्षा होम साइंस विषय के साथ पास करने के बाद ग्रेजुएशन के होम साइंस विषय का कोर्स कर सकते है। होम साइंस के उच्च अभ्यास के लिए होम साइंस में पोस्ट ग्रेजुएशन और PHD Degree प्राप्त कर सकते है। नीचे दिए गए कुछ कोर्स होम साइंस में कर सकते हो।
  • फूड एंड न्यूट्रीशन
  • मानव विकास
  • संसाधन और टेक्सटाइल
  • Extension and communication

Home science me career after 12th । होम साइंस में रोजगार के अवसर

आज के वक्त भारत में होम साइंस कोर्स में करियर बनाने के लिए होम साइंस कोर्स बहोत सारे उपलब्ध है। इनमे से कई कोर्स के बारेमे नीचे संपूर्ण बाबतो के बारेमे चर्चा की गई है। आप नीचे दिए कोर्स करके Home Science me Career बना सकते हो या Home Science me rojgar ke avsar ढूंढ सकते हो।

डायेटीशियन और न्यूट्रीशनिष्ट

होम साइंस के क्षेत्र में करियर के मुख्य विकल्प में डायेटीशियन और न्यूट्रीशनिष्ट एक बेस्ट विकल्प है और होम साइंस के बहाेत सारे छात्र इसको अपनी नोकरी के रूप में पसंद करते है। इस नोकरी के लिए उम्मीदवार के पास होम आर, फूड और न्यूट्रीशन में Graduation की Degree या पोषण और डायेटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन, डिप्लोमा या होम आर के फूड, पोषण और आहारशास्त्र में ग्रेजुएशन की Degree होनी जरूरी है।

इस क्षेत्र में फ्रेशर को महीने के 15 हजार से 20 हजार की सैलेरी मिलती है, इसीके साथ थोड़े सालो के अनुभव के बाद हर महीने 30 हजार से भी ज्यादा सैलेरी मिल सकती है। पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करने के बाद उमीदवार को 7 लाख तक का वार्षिक सैलरी पैकेज मिल सकता है। इसके अलावा जॉब प्रोफाइल के लिए विविध सरकारी विभागों, हॉस्पिटल, NGO और विविध बहुराष्ट्रीय कंपनियों में उमीदवार को नोकरी मिल सकती है।

इंटीरियर डिजाइनिंग

होम साइंस के क्षेत्र में एक आकर्षक करियर विकल्प इंटीरियर डिजाइनिंग है, इसकी आजकल बहोत मांग है। होम साइंस या इंटीरियर डिजाइनिंग में Graduation Degree प्राप्त करने के बाद छात्र नेशनल काउंसिल फॉर इंटीरियर डिजाइन की प्रवेश परीक्षा पास करके इस कोर्स में एडमिशन ले सकता है। लाइसेंस प्राप्त इंटीरियर डिजाइनर बनने के लिए उमीदवार को इस क्षेत्र में कम से कम दो साल का कार्य अनुभव होना चाहिए। अपने देश में सहायक इंटीरियर डिजाइनर की सैलेरी महीने की 30 हजार से 40 हजार तक की होती है। थोड़े सालो के अनुभव के साथ सीनियर इंटीरियर डिजाइनर की वार्षिक सैलरी 8 लाख से 25 लाख तक मिल सक्त है।

काउंसलर

काउंसलर की मुख्य भूमिका लोगो को विविध व्यक्तिगत, कौटुंबिक, सामाजिक और आर्थिक शिक्षा देना है। जिसको नोकरी और करियर से जुड़ी विविध समस्या के साथ अच्छे से व्यवहार करने के लिए जरूरी सलाह और मार्गदर्शन देता है। काउंसलर बनने के लिए उमीदवार के पास होम साइंस या सायकोलोजी में ग्रेज्यूएट या पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री होनी चाहिए या संबधित काउंसलिंग में सर्टिफिकेट कोर्स के साथ व्यवहारु अनुभव होना चाहिए। भारत देश में शुरुआत में इस क्षेत्र में लगभग 2 लाख से 5 लाख की सैलरी पैकेज मिलता है।

शिक्षक, व्याख्याता और प्रोफेसर

Bachalor of education (B.ed) या Master of education (M.ed) की Degree प्राप्त करने के बाद होम साइंस में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन और PHD Degree करने के बाद उनेदवार प्रोफेसर बन सकता है। इसके साथ ही उमीदवार देश की अलग अलग सरकारी, प्राइवेट स्कूल, कॉलेज, और यूनिवर्सिटी में PGT, TGT, Lecturer या प्रोफेसर की नोकरी कर सकता है। TGT या PGT की सैलरी हर महीने 34,800 रुपिया और 9300+ रुपिया ग्रेड पे होता है। इसके साथ ही एक सहायक कॉलेज प्रोफेसर को लगभग महीने की सैलेरी 60 हजार रुपए मिलते है।

फेशन डिजाइनर्स

फेशन डिजाइनर्स के लिए उमीदवार के पास टेक्सटाइल, फैब्रिक्स, कलर्स, नवीनतम फेशन कला या फेशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए। भारत में फेशन डिजाइनर्स की सरेराश वार्षिक सैलरी पैकेज 3 लाख से 10 लाख तक मिलती है।

होम साइंस में अन्य रोजगार के अवसर

आपकी अनुकूलता, कुशलता, योग्यता, कार्य के हिसाब से होम साइंस के क्षेत्र में संबधित विविध रोजगार के अवसर की सूची नीचे दी गए है।
  • अपेरल इंडस्ट्री प्रोडक्शन मैनेजर
  • Colour cunsaltant
  • Resource developers
  • आहार सलाहकार
  • Child development
  • Public Relation
  • फिलांसर सलाहकार
  • Restaurant manager
  • Banking and finance job
  • फुड उधोग निकरिया

होम साइंस में सरकारी नोकरी

छात्र मान्य कॉलेज, यूनिवर्सिटी में से होम साइंस में ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या पीएचडी डिग्री प्राप्त करने के बाद विविध सरकारी विभागों में होम साइंस के क्षेत्र साथ संबधित जूनियर और वरिष्ठ स्तर की नोकरी कर सकते है। खास करके कृषि, खेती कल्याण मंत्रालय, फुड प्रोसेसिंग उद्योग मंत्रालय, आरोग्य और कुटुंब कल्याण मंत्रालय, महिला और बाल विकास मंत्रालय में भारत सरकार की अलग अलग पोस्ट की जॉब प्रोफाइल के तहत होम साइंस में विविध नोकरिया समेल है। होम साइंस में ग्रेजुएशन के बाद छात्र GPSC, UPSC, SSC जैसी एग्जाम्स पास करके सरकारी नोकरी कर सकते है।

होम साइंस में भारत की टॉप संस्थाएं

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • राजेंद्र कृषि यूनिवर्सिटी, पुंसा
  • मुंबई यूनिवर्सिटी, मुंबई
  • सीएसके हिमाचल प्रदेश कृषि यूनिवर्सिटी, पालमपुर
  • चंद्रशेखर आजाद कृषि और टेक्नोलोजी यूनिवर्सिटी, कानपुर
  • इलाहाबाद कृषि यूनिवर्सिटी
  • नरेन्द्र देव कृषि टेक्नोलोजी यूनिवर्सिटी, फैजाबाद
  • राजस्थान कृषि यूनिवर्सिटी, बीकानेर
  • महाराणा प्रताप यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, उदयपुर
  • आचार्य एनजी रंगा अर्ग्रिकल्चर यूनिवर्सिटी, हैदराबाद

निष्कर्ष

हेलो दोस्तो आज हम ने इस पोस्ट में होम साइंस में करियर, home science me career kaise banaye, होम साइंस में रोजगार के अवसर कैसे ढूंढे, home science me career after 12th इन सब बाबतो के बारेमे बताया, उम्मीद करता हु आपको home science me career की सभी प्रकार की जानकारी मिल गए होगी। इसके साथ ही अगर आपको इस लेख में अच्छी जानकारी मिली होती इस लेख को अपने साथी मित्रो को भी शेर करे।
-->