GST क्या है ? What is GST in hindi ?

GST क्या है? (what is GST in hindi?) GST समग्र देश के लिए एक सीधा टेक्स है। भारत में गुड्स ऐंड सर्विसिस टेक्स कायदा एक व्यापक टेक्स है ।
सबसे पहले तो GST क्या है? (what is GST in hindi?) GST समग्र देश के लिए एक सीधा टेक्स है। भारत में गुड्स ऐंड सर्विसिस टेक्स कायदा एक व्यापक, मल्टी फ्रेज, गंतव्य आधारित टेक्स है, जो हर मूल्य में बढ़त पर लेने में आता है। दूसरे शब्दो में कहिए तो ये टैक्स माल और सेवाओं पे लगाया जाता है।

gst-in-hindi
gst-kya-hai


इस पोस्ट में GST के बारेमे क्या क्या बताया गया है?

  • GST क्या है? What is GST in hindi ?
  • GST फूल फार्म
  • भारत में जीएसटी कब लागू हुआ?
  • GST कितने प्रकार के होते है? Type of GST in India?
  • जीएसटी कितने देशों में लागू है?
  • GST वेबसाइट
  • जीएसटी कोर्स क्या है?
  • जीएसटी कोर्स कोन कर सकता है?
  • भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स ( GST Courses in India)
  • जीएसटी कोर्स के लाभ
  • जीएसटी के लाभ (Advantages of GST)

GST क्या है? What is GST in hindi ?

GST इनडायरेक्ट टेक्स या डायरेक्ट टैक्स है, जो भारत में केंद्र और राज्य स्तर पे सीधे तौर पे लगा है।

GST का फूल फार्म क्या है? GST Full Form

GST का फूल फार्म गुड्स ऐंड सर्विस टैक्स है। (GST full form Goods and Service Tax).

GST वेबसाइट

www.gst.gov.in
http://gstcouncil.gov.in

भारत में GST कब लागू हुआ?

GST भारत के सांसद में 29 मार्च 2017 को पसार किया गया था और उसके बाद भारत में GST 01 जुलाई 2017 से लागू हुआ

GST कितने प्रकार के होते है? Type of GST in India?

भारत देशमे GST 4 प्रकार के होते है। Four types of GST in India.
  • SGST - State Goods and Service Tax (राज्यमें लागू किया गया टेक्स)
  • CGST - Central Goods and Service Tax (केंद्र में लागू किया गया टेक्स)
  • UGST या UTGST - केंद्रशासित प्रदेश में लागू किया गया टेक्स
  • IGST - राज्य और केंद्र दोनो प्रदेश में लागू किया गया टेक्स

GST कितने देशों में लागू है?

भारत सरकार के रिपोर्ट के अनुसार अभीतक पूरे विश्व में GST 150 देशों में लागू हुआ है। सबसे पहले GST लागू करने वाला देश फ्रांस है।

जीएसटी कोर्स क्या है? (GST courses)

गुड्स ऐंड सर्विस टैक्स का प्रायोगिक पासाओ को GST courses के तहत एकजुट कर लिया है, जिसमे जीएसटी रजिस्ट्रेशन, GST Return, जीएसटी ऐकाउंटिंग और रिकॉर्डिंग इत्यादि संबधित तमाम कामगिरि सामेल है, जिसकी पूरी वगत नीचे दिए गई है।

GST रजिस्ट्रेशन (GST Registration)

जीएसटी लागू होने के बाद जो 20 लाख से अधिक व्यवसायिक टर्न ओवर ( नॉर्थ ईस्ट और हिल स्टेट्स के लिए 10 लाख रुपया) हो तो कोई भी वेपारी को सामान्य करपात्र व्यक्ति की तोर पर अपना नाम रजिस्टर कारवां पड़ता है। इस प्रक्रिया को GST Registration कहा जाता हैं, ये प्रक्रिया सामान्य तह 2 से 6 कार्यकारी दिन में होती है। GST Registration ना करने पर दंड भुगतान का नियम भी लागू हो सकता है।

जीएसटी रिटर्न (GST Return)

जीएसटी रिटर्न ये तमाम GST Return फार्म है जो तमाम करदाताओ द्वारा नए जीएसटी नियम के तहत Income Tax Authoritie of India मे भरने में आता है, मूलभूत GST Return एक दस्तावेज है जो आपके खरीद, वेचाण पर ऐकत्रित टेक्स और खरीदी पर पेड़ टेक्स की विगत देता है।

जीएसटी ऐकाउंटिंग (GST Accounting)

जीएसटी ऐकाउंटिंग में अकाउंट और इंफोसिस सिस्टम सामेल है, जो GST Tracking के लिए व्यवसायिक संगठनों से विशेज जरूरियतो को पूर्ण करता है।

जीएसटी रिकॉर्डिंग (GST Recording)

जीएसटी रिकॉर्डिंग, GST Authority के तहत आता है। अप्रिल 2017 को केंद्र सरकार ने GST अकाउंट्स और रिकॉर्ड्स के लिए नियम बाहर बनाए है। इसमें ज्यादा जीएसटी एकाउंटिंग और रिकॉर्ड्स रखने के लिए आवश्यकता समेल है।

जीएसटी कोर्स कोन कर सकता है? (GST Course)

  • टेक्स और हिसाबी व्यवसायिक, सलाहकार
  • व्यवसाय के मालिक और ऐकाउंटिंग प्रोफेशनल है जो अपनी कंपनी को सरलता से चलाने के लिए GST Course में मास्टर होना चाहता है।
  • प्रोफेशनल जो फाइनान्स और टेक्स के क्षेत्र में काम करना चाहता है, वोह यह कोर्स कर सकता है।
  • टेक्स के क्षेत्र में रोजगार अवसर ढूंढ रहे लोग, नए छात्र।
  • ऐंजिनियरिंग, कॉमर्स, या आर्ट्स के छात्र ये GST Course कर सकते है।

भारत में उपलब्ध जीएसटी कोर्स ( GST Courses in India)

भारत सरकार के कौशलय विकास और उद्यम मंत्रालय के द्वारा मंजूर किए जीएसटी सेंटर के छात्र और विविध व्यवसायिक GST की तमाम माहिती ऐक्ठी कर सकते है। इन लर्निंग, जीएसटी तालीम, कैम्पस कार्यक्रम, कॉरपोरेट वर्कशॉप और राष्ट्रीय, आंतरराष्ट्रीय प्रमाणपत्र इत्यादि छात्र और व्यवसायिक को दिया जाता है। जीएसटी सेंटर में उपलब्ध कोर्स की सूची नीचे दिए गई है।

जीएसटी - प्रारंभिक कोर्स (GST - 01)

नाम: जीएसटी प्रमाणपत्र डिप्लोमा कोर्स
लायकात: 10th या 12th पास
कोर्स अवधि: 2 से 4 दिन
फि: 2 हजार से 4 हजार

जीएसटी - इंटरमिडियेट कोर्स (GST - 02)

नाम: जीएसटी प्रेक्टिकल कोर्स
लायकात: 10th या 12th पास
कोर्स अवधि: 4 से 6 दिन
फि: 3 हजार से 5 हजार

जीएसटी - टेली ईआरपी 9 (GST - 03)

नाम: जीएसटी टेली ईआरपी
लायकात: 12th पास
कोर्स अवधि: 2 से 3 दिन
फि: 3 हजार

जीएसटी - डिप्लोमा कोर्स (निष्णांत स्तर) (GST - 04)

नाम: जीएसटी डिप्लोमा कोर्स
लायकात: 12th पास
कोर्स अवधि: 8 से 12 दिन
फि: 8 हजार से 10 हजार

जीएसटी - बिजनेस मेनेजमेंट (GST - 05)

नाम: जीएसटी बिजनेस मेनेजमेंट
लायकात: 12th पास और ग्रेजुएट
कोर्स अवधि: 10 से 12 दिन
फि: 6 हजार से 8 हजार

जीएसटी कोर्स के लाभ ( Advantages of GST courses)

  • GST course करने से जीएसटी के संबधित तमाम नवीनतम माहिती और वर्तमान पड़कार के बारेमे पूरी जानकारी मिलती है।
  • जीएसटी के बारेमे अपनी बिनजरूरी गलत माहिती कोर्स के दरमियान दूर हो जाती है।
  • जीएसटी नियम के प्रायोगिक और FAQ पे ध्यान केंद्रित करके उसके नई नियम समझ में आते है।
  • कोर्स के दरमियान टेक्स अध्ययन और परीक्षा द्वारा व्यक्ति के पुराने पड़कार का सामना करने की तालीम मिलती है।
  • GST Course करने के बाद आपको उधोग मान्यता प्राप्त प्रमाणपत्र मिलेगा जिसका उपयोग ब्रांडिंग के लिए कर सकते हो।

जीएसटी के लाभ (Advantages of GST)

  • GST टेक्स प्रभाव को दूर करता है।
  • जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए ज्यादा तक प्रदान करता है।
  • छोटे उधोग के लिए कंपोजिशन स्कीम ऑफर करता है।
  • पालन और प्रक्रिया की पर अनुमति बहोत काम है।
  • ईकोमर्स के लिट डेफिनेटिव ट्रीटमेंट राजू करने में आता है।
  • लॉजिस्टिक्स में कार्यक्षमता बहोत बढ़ी है।
  • GST के तहत बिन संगठित क्षेत्र को नियंत्रण में करने में आया है।